मैं यहाँ आपको भुत-प्रेत वशीकरण या उनके चमत्कारिक किस्से कहानियाँ नहीं सुनाने जा रहा | इन सबके लिए तो ढेर सारी पुस्तकें हैं, धार्मिक ग्रन्थ हैं, हदीसें हैं, पुराण हैं…..

Image Source: Chinese Devils

नघालॉह डॉर ने ग्रामीण मार्केटिंग की एक ऐसी तकनीक ईजाद की है जहां लोगों को अपना सामान बेचने के लिए बिचौलिए की जरूरत नहीं है. दुकान पर सेल्समैन रखने या कहें कि खुद बैठने की जरूरत नहीं है और फायदा पूरा है. यहां जो समय बचता है उसे दुकान के मालिक खेतों में ही बिताना पसंद करते हैं.

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः।गुरुस्साक्षात्परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः ॥१॥ अज्ञानतिमिरान्धस्य ज्ञानाञ्जनशलाकया।चक्षुरुन्मीलितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः॥२॥ अखण्डमण्डलाकारं व्याप्तं येन चराचरं।तत्पदं दर्शितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः ॥३॥ अनेकजन्मसंप्राप्तकर्मबन्धविदाहिनेआत्मज्ञानप्रदानेन तस्मै श्री गुरवे नमः ॥४॥ मन्नाथः श्रीजगन्नाथो मद्गुरुः श्रीजगद्गुरुः।ममात्मासर्वभूतात्मा तस्मै श्री गुरवे नमः ॥५॥ बर्ह्मानन्दं परमसुखदं…

कभी कभी ऐसी परिस्थित में हम फंस जाते हैं कि हम सच नहीं बोल पाते लेकिन यह अपेक्षा सामने वाले से रहती है कि वह सच को समझ पाए | ऐसी ही परिस्थिति में एक लड़की ने पुलिस कण्ट्रोल रूम में फोन किया और फिर…

समय के साथ ध्यान और कई अध्यात्मिक प्रयोग बढ़ते गये तो समझ में आया कि मेरी समस्या मनोविज्ञान से थोड़ा अलग है.. और फिर मैंने स्वयं को स्वीकार लिया | फिर मुझे गर्लफ्रेंड की आवश्यकता नहीं पड़ी, फिर मुझे किसी के हमदर्दी की आवश्यकता नहीं पड़ी…

एक रेलवे-स्टेशन की बेंच पर एक वृद्ध सज्जन बैठे ट्रेन की प्रतीक्षा कर रहे थे. तभी एक नौजवान लड़का वहाँ आया. लड़का – “अंकल, टाइम क्या हुआ है.” वृद्ध सज्जन – “मुझे नहीं मालूम.” लड़का – “लेकिन आपके हाथ में घडी तो है ! प्लीज…

Sundhara (Spouts) प्रकृति का अपना ही तरीका है व्यवस्था बनाये रखने का | मानवों ने तो केवल दोहन ही किया है, लौटाया कुछ नहीं पृथ्वी को |  जमीन से पानी निकाले लेकिन लौटाए नहीं, खनिज निकाले, लेकिन लौटाए नहीं, हीरे जवाहरात निकाले लेकिन लौटाए नहीं…

Sundhara (Spouts) प्रकृति का अपना ही तरीका है व्यवस्था बनाये रखने का | मानवों ने तो केवल दोहन ही किया है, लौटाया कुछ नहीं पृथ्वी को |  जमीन से पानी निकाले लेकिन लौटाए नहीं, खनिज निकाले, लेकिन लौटाए नहीं, हीरे जवाहरात निकाले लेकिन लौटाए नहीं…

सिविल अस्पताल पठानकोट में उस समय अजीब स्थिति पैदा हो गई जब एक पैदल व्यक्ति को शहर की मुख्य सब्जी मंडी में कार की चपेट में आने के बाद सिविल अस्पताल उपचार हेतु लाया गया। देखने में भिखारी प्रतीत होने वाले व्यक्ति की पहचान पवन…

सिविल अस्पताल पठानकोट में उस समय अजीब स्थिति पैदा हो गई जब एक पैदल व्यक्ति को शहर की मुख्य सब्जी मंडी में कार की चपेट में आने के बाद सिविल अस्पताल उपचार हेतु लाया गया। देखने में भिखारी प्रतीत होने वाले व्यक्ति की पहचान पवन…

श्रेष्ठ विचार है यह और उन्नति का परिचायक भी | यदि हम किसी को माफ़ कर देते हैं तो न केवल हम स्वयं आगे बढ़ते है, बल्कि सामने वाले को भी आगे बढ़ने का अवसर देते हैं | हम अवसर देते हैं उसे उन गलतियों…

समीरा कालेर के दोनों बच्चे इंडोनेशिया के बाली में अपनी नानी के साथ गर्मी की छुट्टियां मनाने जा रहे थे. इसके लिए एमएच17 से पहले उन्हें क्वालालंपुर जाना था और वहां से बाली की फ्लाइट लेनी थी