देवदासी प्रथा आज भी चलन में है, यह जानकर मुझे बहुत ही दुःख हुआ |

एक खबर पढ़ी कि एक दो साल की बच्ची की शादी देवता से करवा दी गयी जो कि देवदासी प्रथा है, वही लड़की तेरह वर्ष की आयु में माँ बन गयी | देवदासी प्रथा आज भी चलन में है, यह जानकर मुझे बहुत ही दुःख हुआ |

पूरी खबर विस्तार से…

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में एक 13 साल की बच्ची ‘देवता’ से शादी के बाद मां बन गई है। मामला सामने आने के बाद अब पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है। अहमदनगर के अकोल तालुका के एक गांव में रहने वाली इस बच्ची को महज 2 साल की उम्र में उसकी दादी ने भगवान खांडोबा के मंदिर में सौंप दिया था।

इसी साल अक्तूबर में गांववालों ने 13 साल की हो चुकी बच्ची के साथ 2 माह की बच्ची को देखा। बच्ची के साथ उसकी दादी भी थी। शक होने पर गांव वालों ने इसकी शिकायत पुलिस और सामाजिक संस्थाओं से कर दी। पुलिस अब आरोपी की तलाश में जुट गई है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वे देवदासी प्रथा कानून के तहत मामले की जांच कर रहे हैं। पुलिस को लगता है कि मंदिर में किसी वाग्या ने इस युवती का यौन शोषण किया होगा जिसकी वजह से यह अबोध बालिका मां बन गई।

READ  बुद्ध नहीं, धनानन्द बनना चाहते हैं लोग

लेख से सम्बन्धित आपके विचार

avatar
  Subscribe  
Notify of