ससुरा ! एक शेर फंसा कर नही ला पाया…..। ""


एक सूखी हड्डी को चूसने लगा और जोर जोर से बोलने लगा:

“वाह ………..! शेर को खाने का मजा ही कुछ और है, एक और मिल जाऐ तो पूरी दावत हो जाऐगी…!!! और उसने जोर से डकार मारा…::

इस बार शेर सोच में पड़ गया, उसने सोचा, “ये कुत्ता तो शेर का शिकार करता है , जान बचा कर भाग लो बेटा….!!”

पेड़ पर बैठा एक बन्दर यह सब तमाशा देख रहा था….उसने सोचा, “ये मौका अच्छा है, शेर को सारी कहानी बता देता हूँ, इससे शेर से अच्छी दोस्ती भी हो जाऐगी और जिंदगी भर के लिये खतरा भी दूर हो जाऐगा…!!!”

वह फटाफट शेर के पीछे भागा , कुत्ते ने बन्दर को जाते हुऐ देख लिया….::.उधर बन्दर ने शेर को सब बता दिया कि कैसे कुत्ते ने शेर को बेवकूफ बनाया है….:::

शेर गुर्राया और जोर से कहा, “चल मेरे साथ अभी उसकी नौटंकी खत्म करता हूँ…!!!”

और बन्दर को पीठ पर बैठाकर शेर कुत्ते की तरफ लपका…:::…

कुत्ते ने शेर को आते हुऐ देखा तो एक बार फिर उसकी तरफ पीठ करके बैठ गया और जोर जोर से बोलने लगा. “इस बन्दर को भेजे हुऐ एक घण्टा हो गया , ससुरा ! एक शेर फंसा कर नही ला पाया…..। “”

READ  कौन है पुरुष (who is a male)

लेख से सम्बन्धित आपके विचार

avatar
  Subscribe  
Notify of