यह कि सब कुछ लिखा हुआ है धर्म ग्रंथो में |

आज हमारे समाज का आधार हमारे धर्म ग्रन्थ हैं हर चीज उसमें लिखी हुई है | आज मानवता, प्रेम, सहयोग… सभी कुछ के नियम हैं | …
Posted by विशुद्ध ब्लॉग on Wednesday, June 17, 2015

READ  उसका अपना सफ़र है जैसा भी है...

लेख से सम्बन्धित आपके विचार

avatar
  Subscribe  
Notify of