नघालॉह डॉर ने ग्रामीण मार्केटिंग की एक ऐसी तकनीक ईजाद की है जहां लोगों को अपना सामान बेचने के लिए बिचौलिए की जरूरत नहीं है. दुकान पर सेल्समैन रखने या कहें कि खुद बैठने की जरूरत नहीं है और फायदा पूरा है. यहां जो समय बचता है उसे दुकान के मालिक खेतों में ही बिताना पसंद करते हैं.

508 total views, 1 views today

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः।गुरुस्साक्षात्परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः ॥१॥ अज्ञानतिमिरान्धस्य ज्ञानाञ्जनशलाकया।चक्षुरुन्मीलितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः॥२॥ अखण्डमण्डलाकारं व्याप्तं येन चराचरं।तत्पदं दर्शितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः ॥३॥ अनेकजन्मसंप्राप्तकर्मबन्धविदाहिनेआत्मज्ञानप्रदानेन तस्मै श्री गुरवे नमः ॥४॥ मन्नाथः श्रीजगन्नाथो मद्गुरुः श्रीजगद्गुरुः।ममात्मासर्वभूतात्मा तस्मै श्री गुरवे नमः ॥५॥ बर्ह्मानन्दं परमसुखदं…

2,532 total views, no views today

कभी कभी ऐसी परिस्थित में हम फंस जाते हैं कि हम सच नहीं बोल पाते लेकिन यह अपेक्षा सामने वाले से रहती है कि वह सच को समझ पाए | ऐसी ही परिस्थिति में एक लड़की ने पुलिस कण्ट्रोल रूम में फोन किया और फिर…

1,077 total views, no views today

समय के साथ ध्यान और कई अध्यात्मिक प्रयोग बढ़ते गये तो समझ में आया कि मेरी समस्या मनोविज्ञान से थोड़ा अलग है.. और फिर मैंने स्वयं को स्वीकार लिया | फिर मुझे गर्लफ्रेंड की आवश्यकता नहीं पड़ी, फिर मुझे किसी के हमदर्दी की आवश्यकता नहीं पड़ी…

296 total views, 13 views today

एक रेलवे-स्टेशन की बेंच पर एक वृद्ध सज्जन बैठे ट्रेन की प्रतीक्षा कर रहे थे. तभी एक नौजवान लड़का वहाँ आया. लड़का – “अंकल, टाइम क्या हुआ है.” वृद्ध सज्जन – “मुझे नहीं मालूम.” लड़का – “लेकिन आपके हाथ में घडी तो है ! प्लीज…

585 total views, no views today

Sundhara (Spouts) प्रकृति का अपना ही तरीका है व्यवस्था बनाये रखने का | मानवों ने तो केवल दोहन ही किया है, लौटाया कुछ नहीं पृथ्वी को |  जमीन से पानी निकाले लेकिन लौटाए नहीं, खनिज निकाले, लेकिन लौटाए नहीं, हीरे जवाहरात निकाले लेकिन लौटाए नहीं…

383 total views, no views today

Sundhara (Spouts) प्रकृति का अपना ही तरीका है व्यवस्था बनाये रखने का | मानवों ने तो केवल दोहन ही किया है, लौटाया कुछ नहीं पृथ्वी को |  जमीन से पानी निकाले लेकिन लौटाए नहीं, खनिज निकाले, लेकिन लौटाए नहीं, हीरे जवाहरात निकाले लेकिन लौटाए नहीं…

382 total views, no views today

सिविल अस्पताल पठानकोट में उस समय अजीब स्थिति पैदा हो गई जब एक पैदल व्यक्ति को शहर की मुख्य सब्जी मंडी में कार की चपेट में आने के बाद सिविल अस्पताल उपचार हेतु लाया गया। देखने में भिखारी प्रतीत होने वाले व्यक्ति की पहचान पवन…

348 total views, no views today

सिविल अस्पताल पठानकोट में उस समय अजीब स्थिति पैदा हो गई जब एक पैदल व्यक्ति को शहर की मुख्य सब्जी मंडी में कार की चपेट में आने के बाद सिविल अस्पताल उपचार हेतु लाया गया। देखने में भिखारी प्रतीत होने वाले व्यक्ति की पहचान पवन…

486 total views, no views today

श्रेष्ठ विचार है यह और उन्नति का परिचायक भी | यदि हम किसी को माफ़ कर देते हैं तो न केवल हम स्वयं आगे बढ़ते है, बल्कि सामने वाले को भी आगे बढ़ने का अवसर देते हैं | हम अवसर देते हैं उसे उन गलतियों…

306 total views, no views today