रिलीजन कभी भी धर्म नहीं हो सकता

रिलीजन कभी भी धर्म नहीं हो सकता, क्योंकि प्रत्येक रिलीजन में भले और बुरे लोग होते हैं | रिलिजन केवल मिश्रित समूह है भयभीत व स्वार्थी अच्छे व बुरे लोगों का |

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/pDABn

541 total views, 4 views today

विशुद्ध सनातनी

सभी मत-मान्यताओं, कर्मकांडों, रहन-सहन, ईष्टों और आराध्यों से मिलकर जो धर्म बना वही हिन्दू धर्म कहलाया और सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड जिन नियमों और धर्मों को अपनाकर सहजता से आपसी समन्वय बनाये हुए हैं, उसे हम सनातन के नाम से जानते हैं |

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/qXcSO

662 total views, 2 views today

धर्म खतरे में पड़ता है जब…

सदैव स्मरण रखें: यदि सारे हिन्दू मुसलमान हो जाएँ या सारे मुसलमान हिन्दू हो जाएँ, तब भी धर्म खतरे में नहीं पड़ेगा | धर्म खतरे में पड़ता है जब कोई धार्मिक व्यक्ति अधार्मिक हो जाए | अर्थात जब कोई धार्मिक… Read moreधर्म खतरे में पड़ता है जब…

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/vcMut

1,769 total views, 7 views today

विविधता में विद्यमान है सनातन धर्म

Beauty of nature

स्वार्थी लोगों की जेब से पैसे ऐंठने के लिए मंदिर से बेहतर कोई और उपाय शायद नहीं दिखता इन धर्मों के ठेकेदारों को

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/9I5E7

294 total views, 5 views today

भारत एक सनातनधर्मी राष्ट्र था, है और रहेगा

सनातनी या धर्म निरपेक्ष होने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि साम्प्रदायिकता को यहाँ स्वीकार नहीं किया जायेगा | जो भी साम्प्रदायिकता फैलाएगा, उसके विरुद्ध आवश्यक कदम उठाये जायेंगे

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/tgUFv

643 total views, 1 views today

साम्प्रदायिकता धर्म नहीं है

साम्प्रदायिकों की भीड़ सबसे बड़ी दिखाई देगी जब भी कहीं कोई मंदिर-मस्जिद का खेल चल रहा हो, जब भी कहीं कोई धार्मिक दिखावा व ढोंग का कार्यक्रम चल रहा हो

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/nwChM

438 total views, 1 views today

धर्म बंधन है या स्वतंत्रता ?

तो फिर प्रश्न उठता है कि जब कर्म धर्म नहीं है, रीतिरिवाज, धर्म नहीं है, पूजा-पाठ धर्म नहीं है, कर्त्तव्य धर्म नहीं है तो फिर धर्म है क्या ?

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/8iNgo

471 total views, no views today

परिभाषा आत्मनिर्भरता और दान की

किसी की नजर में मुफ्तखोर तो किसी की नजर में हरामखोर तो किसी की नजर में समाज और देश पर बोझ होते हैं संन्यासी

The short URL of this article is: https://www.vishuddhablog.com/amy0H

1,101 total views, no views today